Followers

Monday, 22 April 2013

तुम अपनी उड़ान भरो नभ में ............ प्यारी बेटियों के लिए .

                                                                                                                                               
                                                                       
                                                                                         
                                                                                                                                                           
              तुम खूब पढ़ों तुम खूब बढ़ो 
           आगे सदा ही बढ़ते रहना 
           डरो न तुम कभी किसी से 
           रुके कभी न तेरी ये उडान
           उज्जवल भविष्य हो तुम्हारा
           इस जहान में रोशन नाम करो
           तुम अपनी उड़ान भरो नभ में .........................
           
           अपनी ख्वाहिशों की परवाज हो तुम
           साकार करो अपने सपने
           आये कितनी भी परेशानियाँ
           अपनी उडान न रोको तुम
           तुम अपनी उड़ान भरो नभ  में ........................

           जीवन में अभिमान न करना तुम
           पर स्वाभिमान न खोना तुम         
           जीवन मूल्य खूब समझना तुम
           याचना किसी से न करना तुम
           दवाब में किसी के न आना तुम 
           तुम अपनी उड़ान भरो नभ  में ...........................

           अपने दिल में प्रेम प्यार की दीप
           इसे सदा  ही जलायें रखना
           संस्कार आचरण परम्पराएँ
           को सदा दिल में बसायें रखना
           गलत न बर्दास्त करना तुम 
           तुम अपनी उड़ान भरो नभ  में ............................
               
          सागर सा गंभीर रहना तुम
          अडिग रहना तुम हिमालय सा
          हर बाधाओं को पार कर
          सदा आगे ही बढ़ना  तुम
          तुम अपनी उड़ान भरो नभ  में ...............................
                                                                             
                                                             रंजना वर्मा